आपका स्वागत है...

मैं
135 देशों में लोकप्रिय
इस ब्लॉग के माध्यम से हिन्दू धर्म को जन-जन तक पहुचाना चाहता हूँ.. इसमें आपका साथ मिल जाये तो बहुत ख़ुशी होगी.. इस ब्लॉग में पुरे भारत और आस-पास के देशों में हिन्दू धर्म, हिन्दू पर्व त्यौहार, देवी-देवताओं से सम्बंधित धार्मिक पुण्य स्थल व् उनके माहत्म्य, चारोंधाम,
12-ज्योतिर्लिंग, 52-शक्तिपीठ, सप्त नदी, सप्त मुनि, नवरात्र, सावन माह, दुर्गापूजा, दीपावली, होली, एकादशी, रामायण-महाभारत से जुड़े पहलुओं को यहाँ देने का प्रयास कर रहा हूँ.. कुछ त्रुटी रह जाये तो मार्गदर्शन करें...
वर्ष भर (2017) का पर्व-त्यौहार नीचे है…
अपना परामर्श और जानकारी इस नंबर
9831057985 पर दे सकते हैं....

धर्ममार्ग के साथी...

लेबल

आप जो पढना चाहते हैं इस ब्लॉग में खोजें :: राजेश मिश्रा

13 दिसंबर 2012

महाकुंभ 2013 : श्रद्धालुओं व मीडियाकर्मियों के जोरदार स्वागत की तैयार


महाकुंभ : 14 जनवरी 2013 से 10 मार्च 2013 तक




जनवरी में आयोजित होने जा रहे महाकुंभ को देखते हुए कई परियोजनाओं को ठंडे बस्ते में डाल देने वाली उत्तर प्रदेश सरकार इस धार्मिक महा समागम को कवर करने के लिए जुटने वाले देश-विदेश के हजारों मीडियाकर्मियों के लिए बेहतरीन व्यवस्था करने जा रही है।
प्रयाग तीर्थ के नाम से मशहूर इलाहाबाद में 12 साल बाद 14 जनवरी 2013 से शुरू होने वाला महाकुंभ 10 मार्च तक चलेगा। इसमें करीब चार करोड़ लोगों के पहुंचने का अनुमान है। जहां महाकुंभ का आयोजन 12 साल पर होता है, वहीं कुंभ मेला हर चार साल बाद बारी-बारी से इलाहाबाद, हरिद्वार, नासिक और उज्जैन में आयोजित होता है।
सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इस मौके पर एक अनुमान के मुताबिक करीब चार हजार भारतीय और तीन हजार विदेशी पत्रकार इलाहाबाद पहुंचेंगे। राज्य सरकार ने विदेशी मीडियाकर्मियों के लिए 100 और भारतीय के लिए 150 स्विस कॉटेज टेंट लगाने की मंजूरी दी है। महाकुंभ के मीडिया प्रभारी अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि इस माह के अंत तक सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएंगी।
सुविधा के एवज में विदेशी पत्रकरों से शुल्क वसूली पर फैसला लिया जाना है, जबकि राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त पत्रकर इन टेंटों में बिलकुल मुफ्त रह सकेंगे। पत्रकारों को परंपरागत भारतीय व्यंजन व अन्य व्यंजन परोसे जाएंगे। भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय मीडियाकर्मियों के लिए अलग-अलग कैफेटेरिया होगा जहां भुगतान कर 24 घंटे खाने-पीने की सुविधा मिलेगी।
संगम के किनारे बनने वाले मीडिया सेंटर में 600 पत्रकारों के ठहरने की व्यवस्था होगी। एक प्रेस कान्फ्रेंस हॉल होगा जहां मेले में आने वाले वीआईपी और गणमान्य मीडियाकर्मियों से बातचीत कर सकेंगे। खबर भेजने के लिए ब्राड बैंड कनेक्शन, इंटरनेट लैस 50 कंप्यूटर, 10 प्रिंटर, 10 स्कैनर के अलावा टेलीफोन लाइनें और फैक्स की व्यवस्था होगी। रिकार्डिग के लिए एक साउंड प्रूफ स्टूडियो और प्रसारण के लिए अपलिंकिंग की सुविधा उपलब्ध होगी। टीवी चैनलों के पत्रकारों के लिए अत्याधुनिक संपादन मशीनें और एफटीपी सर्वर भी होगा। दुनिया के सामने कुंभ मेला के दृश्यों को सामने लाने के लिए चौबीसों घंटे प्रसारण के लिए कैमरे लगाए जाएंगे और 25 ओबी वैन की पार्किं ग की व्यवस्था होगी। इसके अलावा छायांकन के लिहाज से महत्वपूर्ण समझे जाने वाले 10 स्थलों पर वाच टावर बनाया जाएगा जहां इलेक्ट्रानिक मीडियाकर्मी और छायाकार जा सकेंगे।

मेरी ब्लॉग सूची

  • World wide radio-Radio Garden - *प्रिये मित्रों ,* *आज मैं आप लोगो के लिए ऐसी वेबसाईट के बारे में बताने जा रहा हूँ जिसमे आप ऑनलाइन पुरे विश्व के रेडियों को सुन सकते हैं। नीचे दिए गए ल...
    6 माह पहले
  • जीवन का सच - एक बार किसी गांव में एक महात्मा पधारे। उनसे मिलने पूरा गांव उमड़ पड़ा। गांव के हरेक व्यक्ति ने अपनी-अपनी जिज्ञासा उनके सामने रखी। एक व्यक्ति ने महात्मा से...
    6 वर्ष पहले

LATEST:


Windows Live Messenger + Facebook